5 गढ़वाली गीत जो हैं हर भारतीय की पसंद

बेडु पाको

बेडु  पाको एक उत्तराखंडी  लोक गीत है जिसको  बृजेंद्र लाल शाह ने लिखा है। यह मोहन उप्रेती और बी. एम. शाह द्वारा कंपोज़ किया गया था  और अब तक दुनिया भर में  कई संस्करणों में देखा और सुना गया है।  यह 1 952 में पहली बार राजकीय  इंटर कॉलेज, नैनीताल में मंच पर गाया गया था।  यह गीत लोकप्रिय हो गया जब इसे अंतर्राष्ट्रीय मठ के सम्मान में किशोर मूर्ति भवन में गाया गया। तब भारत के प्रधान मंत्री जवाहरलाल नेहरू ने भारत के अन्य प्रतिभागियों के बीच इस गीत को सर्वश्रेष्ठ लोक गीत के रूप में चुना, और मोहन उप्रेती बेडू पाको बॉय बन गए।

बेडू  पको बारा मासा नरैना काफल पाको चैता, मेरी छैला
भूण  भूण  दिन आयो नरैना, तुझे तेरी मैता  , मेरी छैला
Image taken from a youtube video by hf

प्रमाण| गढ़वाली और कुमाउनी बोली नहीं ‘भाषा” हैं |

त्वील चिठ्ठी किले नी भेजी

यह गाना मेरा भी  पसंदीदा है, यह एक प्रसिद्ध और सबसे पुराने गढ़वाली गीतो मैं से एक  है। आपने इस गाने के कई नए संस्करण सुने होंगे लेकिन ओल्ड इस गोल्ड।

होशिया उम्र ची मेरी कुछ न बोला मेकु

यह एक मज़ेदार हास्य रस से भरपूर गढ़वाली गीत है , हर किशोर इस गीत से खुद को जोड़ सकता है. इस गाने मैं गायक कह रहा है की अभी मैं किशोरावस्था मैं हु मुझ पर कोई रोक टोक ना लगाई जाय.

यह भी पढ़ें:

भारतीय चुनाव से जुड़े कुछ अविश्वनीय तथ्य जिन्हें आपने पहले कभी नहीं सुना होगा

उत्तराखंड की प्रसिद्ध महिलाएं जिन्होंने विश्व में मनवाया अपना लोहा

नारंगी की दाणी

श्री नरेन्द्र सिंह नेगी का एक अन्य मास्टर पीस। नेगी जी की सुरीली आवाज और मधुर लिरिक्स , आप इस गीत को सुने बिना नहीं छोड़ सकते।

नया जमाना का छोरों

नरेंद्र सिंह नेगी द्वारा गाया गया हास्य से भरा गढ़वाली गीत, बेहद सुरीला और खूबसूरत, वीडियो हास्य से भरपूर , आपको यह गीत जरूर सुनना  चाहिए।

 

तो दोस्तों कैसी लगी  आपको ये पोस्ट, कमेंट मैं अपने पसंदीदा गढ़वाली या कुमाउनी  गीत जरूर पोस्ट करे

धन्यवाद।

REALTED

क्या है आर्टिकल 370 और क्यों हटाना जरुरी हो गया है इसे कश्मीर से??

गढ़वाल राइफल के मेजर पर ऍफ़ आई आर | पूरी कहानी | सरकार है जिम्मेदार?

इतिहास में उत्तराखंड का इन नामों से है उल्लेख

 

 

Please follow and like us:

About the Author

Ashish Rawat

An Engineer by profession, thinker by choice and a pahari by birth. I am tech trainer and runs a coaching institute as well as an web development firm.

2 thoughts on “5 गढ़वाली गीत जो हैं हर भारतीय की पसंद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *